Manish Sisodia
News National

मनीष सिसोदिया का बीजेपी पर देश में सरकारी स्कूल बंद करने का आरोप ।

Spread the love

“आप स्कूलों में भ्रष्टाचार की जाँच करना चाहते हैं? यह भी देखें कि आपकी पार्टी के सत्ता में आने के बाद से देश में सरकारी स्कूल क्यों बंद हो रहे हैं? मनीष सिसोदिया ने कहा।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शनिवार को एक बार फिर संवाददाता सम्मेलन में कहा कि भारतीय जनता पार्टी पर आरोप लगाया कि उसके सत्ता में आने के बाद से सरकारी स्कूल बंद हुए है । और हमने दिल्ली में उच्च स्तर के जो सरकारी स्कूल बनाए है उन पर ये लोग जाँच करना चाहते है । मनीष सिसोदिया ने कहा कि ये गवार (निरक्षर लोगों की पार्टी) की पार्टी है और वे पूरे देश को निरक्षर रखना चाहते हैं । इससे एक दिन पहले एलजी वीके सक्सेना ने दिल्ली के सरकारी स्कूलों में अतिरिक्त कक्षाओं के निर्माण पर केंद्रीय सतर्कता आयोग (CVC) द्वारा जांच रिपोर्ट पर कार्रवाई करने में सतर्कता विभाग द्वारा देरी पर मुख्य सचिव से रिपोर्ट मांगी थी ।

चार साल पहले सीएम (अरविन्द केजरीवल) के दफ्तर पर सीबीआई से छापा मारा, फिर उन्होंने मेरे घर पर सीबीआई ने छापेमारी की । फिर उन्होंने 40 विधायकों के खिलाफ फर्जी FIR दर्ज कराई । इन सब में कुछ नहीं निकला । फिर दुबारा उन्होंने मुझ पर शराब नीति को लेकर ड्रामा किया जिसमें ईडी और सीबीआई ने मेरे घर छापेमारी की । फिर भी कुछ नहीं मिला । फिर उन्हें इस बात का अहसास हो गया है कि इससे कुछ निकलने वाला नहीं है । इसलिए कल से उन्होंने एक नई कहानी गढ़नी शुरू कर दी है कि स्कूल बनाने में घोटाला हुआ है ।

सिसोदिया ने कहा कि देश जानता है कि दिल्ली में अच्छे स्कूल हैं । हम गर्व से कहते हैं कि दिल्ली के सरकारी स्कूल इतने अच्छे हैं कि निजी स्कूल भी इतने अच्छे नहीं हैं । अब उनकी साजिश है कि वे दिल्ली के स्कूलों को बंद करना चाहते हैं । वे इस बात को पचा नहीं पा रहे हैं कि दिल्ली के स्कूल इतने अच्छे कैसे हैं । ”उन्होंने कहा ये अनपढ़ और गंवार (निरक्षर ) लोगों की पार्टी है और ये देश को अनपढ़ और गंवार (निरक्षर) ही रखना चाहते है ।

सरकारी स्कूल बंद करने का आरोप ।

“आप स्कूलों में भ्रष्टाचार की जाँच करना चाहते हैं? जांच करें । यह भी देखें कि आपकी पार्टी के सत्ता में आने के बाद से देश में सरकारी स्कूल क्यों बंद हो रहे हैं? 2014 के बाद से, देश में सरकारी स्कूल बंद हो रहे हैं। 2015 से 2021 तक देश में 72,747 सरकारी स्कूल बंद कर दिए गए हैं। वे चाहते हैं कि देश निजी स्कूलों पर निर्भर रहे । निजी स्कूल जिन्हें केवल 20% बच्चे ही वहन कर सकते हैं। जहां कहीं सरकारी स्कूल बंद हो रहे हैं, वहां निजी स्कूल खुल रहे हैं और ये निजी स्कूल अपने ही नेताओं द्वारा खोले जा रहे हैं. यह उनका स्कूल मॉडल है, ”सिसोदिया ने कहा।

सिसोदिया ने आगे कहा “मुझे बहुत गर्व है कि 2015 के बाद दिल्ली में 700 नए स्कूल भवन बने हैं । ये निजी स्कूल भवनों से बेहतर हैं। उन्हें इससे दिक्कत है.. कि हमने इस पर पैसा खर्च किया । हां, हमने इस पर पैसा खर्च किया है । यह देश के बच्चे हैं, और बच्चों की शिक्षा पर पैसा खर्च करना सरकार की जिम्मेदारी है । ”

Leave a Reply

Your email address will not be published.