नई दिल्ली. हर साल 26 जुलाई को कारगिल विजय दिवस (Kargil Vijay Diwas 2021 ) मनाया जाता है. इसी दिन 1999 में पाकिस्तान के खिलाफ भारतीय सेना ने कारगिर में जीत हासिल की थी. लद्दाख में कारगिल की पहाड़ियों पर 60 दिनों तक चलने वाले इस युद्ध में भारतीय सेना ने पड़ोसी देश के सेना को इस क्षेत्र से खदेड़ दिया था. लिहाजा सेना के इस कामयाबी के जश्न को मनाने के लिए देश भर में हर साल कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं. 22वें कारगिल विजय दिवस के मौके पर रविवार को तोलोलिंग, टाइगर हिल और अन्य शानदार लड़ाइयों को याद किया गया और लद्दाख के द्रास इलाके में स्थापित कारगिल युद्ध स्मारक पर 559 दीप जलाए गए. इस मौके पर शीर्ष सैन्य अधिकारी, सैन्य कर्मियों के परिवार के सदस्य और अन्य लोग मौजूद रहे.

रक्षा मंत्रालय के जनसंपर्क अधिकारी कर्नल इमरॉन मुसावी ने बताया कि स्मारक पर देश के लिए प्राणों की आहुतियां देने वाले जवानों की याद में सांकेतिक रूप से 559 दीप जलाए गए. समापन समारोह सैन्य धुन के साथ हुआ. कार्यक्रम में मौजूद लोगों ने मौन रहकर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की. कर्नल मुसावी ने बताया कि कैप्टन विक्रम बत्रा की जिंदगी पर बन रही फिल्म ‘शेरशाह’ का ट्रेलर भी जारी किया गया. कैप्टन बत्रा ने साल 1999 में कारगिल युद्ध के दौरान पाकिस्तान से लड़ते हुए मात्र 24 साल की उम्र में शहादत दी थी और उन्हें मरणोपरांत युद्धकाल के सर्वोच्च वीरता पुरस्कार परमवीर चक्र से सम्मानित किया गया था.

राष्ट्रपति का दौरा आज

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का भी सोमवार को द्रास आने का कार्यक्रम हैं जहां वे तोलोलिंग पहाड़ी की तलहटी में स्थापित युद्ध स्मारक पर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे. सीडीएस बिपिन रावत भी आज इस इलाके का दौरा करेंगे. हर साल इस दिन, प्रधान मंत्री दिल्ली में इंडिया गेट के अमर जवान ज्योति पर सशस्त्र बलों को श्रद्धांजलि देते हैं. भारतीय सेना के योगदान को याद करने के लिए कारगिल सेक्टर और देश भर में अन्य जगहों पर भी समारोह आयोजित किए जाते हैं.

कार्यक्रम पर कोरोना का असर

सेना के अधिकारियों ने समाचार एजेंसियों को बताया कि कारगिल विजय दिवस 2021 भारत कोरोना वायरस के संक्रण को ध्यान में रख कर किया जाएगा. लिहाजा इस साल समारोह को कम किया जाएगा. कारगिल युद्ध की जीत के 22 साल पूरे होने के जश्न का बिगुल बजाने के लिए जम्मू-कश्मीर के उधमपुर में एक भव्य समारोह का आयोजन किया गया था, लेकिन पूरे आयोजन के दौरान सभी कोविड -19 प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन किया गया. (एजेंसी इनपुट के साथ)

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here